Sat. Jun 15th, 2024

Most Expensive Book: आप किताबे तो जरूर पढ़ते होंगे और उससे अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव भी लाया होगा। ज्यादातर किताबो की किंमत अधिक होती है तो वह इसे खरीद नहीं सकते है, लेकिन क्या बोलू की 410 करोड़ रुपये की किताब हो तो आप लेंगे? सवाल है नहीं लेकिन आपके मन में भी यह सवाल होगा की इस Most Expensive Book में ऐसा क्या खाश बात है की इतनी ज्यादा किंमत में बिक गयी चलिए जानते है।

दुनिया की सबसे महंगी किताब में से यह पहली किताब है जो 15वीं सेंचुरी में लिखी गयी थी और आप यकीन नहीं करेंगे इसकी किंमत 410 करोड़ रुपये है। ऐसा क्या राज छिपा है इस किताब में जो इसकी कीमत सातमे आसमान छू रही है, इसका जवाब हमने इस आर्टिकल में बताया हुआ है और आपको कैसे यह किताब फ्री में मिलने वाली है यह भी बताया हुआ है।

Most Expensive Book

Most Expensive Book Of World: 410 करोड़ रुपये की किताब

आपने किताबे तो बहुत पढ़ी होगी उसकी किंमत लगभग ₹500 या ₹1000 से ज्यादा नहीं होगी लकिन आज जो हम किताब की बात करने वाले है वह करीब 410 करोड़ रुपये में बिक्री हुई है जो की यह आज तक की सबसे अधिक किंमत वाली है। इसकी किंमत इतनी अधिक है की आप उसको खरीदना तो दूर सोचना भी बस के बात नहीं है।

Most Expensive Book जो की इतनी भी ज्यादा बड़ी नहीं है सिर्फ 72 पन्नों की बानी हुई है। दोस्तों ज्यादा इंतजार न कराते हुए चलिए जानते है की इसकी असली किंमत क्या है किसने इसे खरीदा हुआ है यह सभी जानकारी हम इस आर्टिकल में आपको बताएँगे।

दुनिया की सबसे महंगी किताब का नाम क्या है?

दुनिया की सबसे महंगी किताब का नाम “कोडेक्स लेस्टर” है जो की 15वीं शताब्दी में महान कलाकार और वैज्ञानिक लियोनार्डो दा विंची द्वारा इसे लिखा गया है। यह किताब किस देश की है तो फ्लोरेंस इटली की है। यह एक हैंड रिटेन बुक है जो की 1510 में पब्लिश की गयी थी। इस किताब के 72 पन्ने या 18 शीटें है, यह दुनिया की सबसे मंहगी किताब में इसका नाम आ जाता है।

इस किताब में ऐसा क्या खाश लिखा होगा की इतनी बड़ी मंहगी है? तो हम बता देना चाहते है की इसमें दा विंची ने खगोल विज्ञान, प्रकाशिकी, जल विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, जीवाश्म विज्ञान, मानव शरीर रचना विज्ञान, और मानचित्रण जैसे विभिन्न विषयों के बारे में अपने विचारों और अवलोकनों के बारे में लिखा हुआ है।

कोडेक्स लेस्टर किताब का मालक कौन है?

दुनिया की सबसे महंगी किताब को खरीदने वाले और कोई नहीं बल्कि Microsoft के मालिक बिल गेट्स ही है जिन्होंने 1994 में इस मंहगी किताब को 49.4 मिलियन डॉलर में खरीदा था, हम अमेरिकी डॉलर के इंडियन करेंसी में बदल कर बात करे तो यह करीब 410 करोड़ रुपये इसकी किंमत होती है।

यह भी पढ़े –

Meesho Work From Home: मीशो के साथ जुड़कर कमाए महीने के 50 हजार रुपये

MSBTE Exam Form 2024: Apply Online for MSBTE, Exam Dates

Fedex Data Entry Jobs: सिर्फ एक घंटे का काम और $16-$25 कमाए, जाने डाटा एंट्री जॉब्स कैसे करे? 

बिल गेट्स ने कहा है की वह इस किताब को दुनिया के साथ साझा करना चाहते है और उन्होंने डिजिटल रूप से स्कैन किया और इंटरनेट पर मुफ्त में उपलब्ध कराया हुआ है जहा आप गूगल में जाकर इस किताब को डाउनलोड भी कर सकते है।

225 करोड़ रुपये में दूसरी किताब बिकी थी

कोडेक्स लेस्टर के आलावा भी हम दूसरी Most Expensive Book की बात करे तो उसका नाम मैग्ना कार्टा है। इसके पिछले इतिहास की माने तो 808 साल पहले यानी करीब 1215 में इसको लखा गया था और इस किताब को लिखने वाले जॉन और किंग ऑफ इंग्लैंड है। इस किताब को 24.5 मिलियन डॉलर में खरीदा गया था जो करीब 225 करोड़ रुपये में बिकी थी।

दोस्तों तो ऐसी किताब भी दुनिया में है जिसकी किंमत बहुत ही अधिक है लेकिन कोई खरीद नहीं रहा है यह किताबे जो की Most Expensive Book है उसको फ्री में उपलब्ध करा दिया है जो कोई भी इसे इंग्लिश या फिर हिंदी में पढ़ सकता है।

By Admin

EduTechHindi मे आपका स्वागत है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *